ALIGARH

छात्रनेता मुन्तजिम किद्वई के संरक्षण में फेल के परिणाम को बदल देने में छात्र दे रहे थे इन्स्टीट्यूट को घातक परिणामों की धमकियां

रिपोर्टर मो, दिलशाद 18/09/21

छात्रनेता मुन्तजिम किद्वई के संरक्षण में फेल के परिणाम को बदल देने में छात्र दे रहे थे इन्स्टीट्यूट को घातक परिणामों की धमकियां

जनपद अलीगढ़, के धौर्रा बाईपास स्थित प्रीमियर इन्स्टीट्यूट ऑफ़ एलाइड हैल्थ साइंसेज के दो छात्र सत्र 2019 की अपनी वार्षिक परीक्षा मार्च 2021 में पिछ्ले महिने 12 अगस्त को फेल हो गए थे।साथ ही दोनो ही छात्रों ने अपनी परीक्षा से पहले अपनी अपनी फीस का भुगतान परीक्षा देकर आ जाने के बाद देने के लिखित आश्वासन भी दिये थे।जिसमे एक छात्र ने तो अपनी फी भुगतान का चेक भी दिया था जो दो बार बाउंस हो चुका है।डायरेक्टर आरिफ अली खान आगे बताते हैं की दोनो ही छात्रों ने अपने प्रथम वर्ष की परीक्षा से लौट आने के बाद फी का अब तक भुगतान नहीं किया है साथ ही अपने पाठ्यक्रम की द्वितीय वर्ष की 20 जून 2021 से 7 अगस्त 2021 तक ऑनलाइन क्लासिज़ भी की थीं।जिससे यह तो स्पष्ट है की दोनो ही छात्रों को इन्स्टीट्यूट से कभी कोई भी शिकायत नहीं थी परंतु 12 अगस्त को उनके परिणाम में फेल हो जाने से छात्रनेता के संरक्षण में दोनो ही छात्रों ने तरह तरह की झूठी शिकायतें करना शुरु कर दिया था।डायरेक्टर आरिफ अली खान ने यह भी बताया की पहले निलम्बित छात्र नेता मुन्तजिम किद्वई ने दोनो छात्रों के सम्बंध में उनसे 20-20 हज़ार की माँग की थी जिसमें उन्होने छात्रनेता की इस माँग को सिरे से नकार दिया था जिसके बाद दोनो छात्रों से 10-10 हज़ार रुपये लेकर अपने छात्रसभा जिलाध्यक्ष के पद का उस छात्रनेता ने दुरुपयोग तो किया ही साथ ही समाजवादी पार्टी की अलीगढ में छवि धूमिल करने का भी काम किया था जिसके कारण पार्टी ने उसे शिकायत बाद तुरंत ही निलम्बित कर दिया था।आप को बता दें की पिछ्ले माह 15 अगस्त को दोनो छात्रों ने डायरेक्टर आरिफ अली खान से उनके फेल के परिणाम को पास के परिणाम में परिवर्तन करने को ज़ोर दिया था।साथ ही उनके द्वारा ऐसा नहीं करा डालने में इन्स्टीट्यूट परिसर में दोबारा आकर तोड़फोड़ ,आगजनी व उन्हें जान से मार डालने की घातक परिणामों को झेलने की धमकी भी दे डाली थीं जिसकी शिकायत डायरेक्टर आरिफ अली खान ने अगले ही दिन थाना क्वार्सी में की थी।अब इन्स्टीट्यूट के डायरेक्टर आरिफ अली खान ने 12 सितम्बर 2021 को पुलिस अधीक्षक अलीगढ,श्री कलानिधि नैथानी से भी मुन्तजिम किद्वई के संरक्षण में उन्हें छात्रों द्वारा दी गईं धमकियों की लिखित शिकायत की थी जिसमें उनके सभी आरोपों को सही पाया गया है, साथ ही जमालपुर निवासी छात्र मोहसिन हसन पुत्र मुस्लिम हसन के विरुध थाना सिविल लाईन ने 16 सितम्बर को शान्ती व्यवस्था भंग करने के प्रयत्न की आशंका में उसके विरुध निरोधात्मक कार्यवाही प्रस्तावित करते हुए मामले की अग्रिम जांच को क्वार्सी थाना स्थानांतरित करने का एसएसपी अलीगढ से अनुरोध भी किया है,

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker