ALIGARH

डीएम-एसएसपी ने की कलैक्ट्रेट में शान्ति समिति की बैठक,विभिन्न समुदायों के धर्मगुरू रहे मोजूद

रिपोर्टर आकाश कुमार

विभिन्न समुदायों के प्रबुद्धजन, मौलवी, पुजारी, मुतवल्ली एवं धर्मगुरू रहे उपस्थित

शहर की फिजा को खराब करने वालों की सूचना कन्ट्रोल रूम को दें, नाम रहेगा गोपनीय

बैठक में आईं हुयीं समस्याओं का सम्बन्धित अधिकारियों द्वारा कराया जाएगा समाधान

प्रबुद्धजन धार्मिक आयोजनों के समय उपस्थित रहकर युवाओं का करें सही मार्गदर्शन

अफवाहों एवं भ्रामक सूचनाओं को फैलने से रोंके, जिला व पुलिस प्रशासन से करें पुष्टि

अलीगढ़ जनपद 19 अप्रैल 22 सू0वि0 जिला मजिस्ट्रेट जे. की अध्यक्षता में कलैक्ट्रेट सभागार में शहर के विभिन्न समुदायों के प्रबुद्धजनों, मौलवियों, पुजारियों, मुतवल्लियों एवं धर्मगुरूओं के साथ शान्ति समिति की बैठक का आयोजन किया गया। उन्होंने जनसामान्य से जनपद में शान्ति एवं अमन-चैन की अपील करते हुए कहा कि पुलिस प्रशासन आप सभी की सुरक्षा एवं शान्ति बनाए रखने के लिये है। हम सभी हर कदम पर आपके सुख-दुःख में साथ खड़े हैं। बैठक में संवाद करते हुए उन्होंने कहा कि हमें विश्वास हो गया है कि जनपदवासी शान्ति व अमन-चैन का माहौल चाहते हैं। आप सभी प्रबुद्धजनों एवं अमन-चैन पसंद नागरिकों के रहते हुए शहर की फिजा को किसी प्रकार का कोई खतरा नहीं है। यदि कोई शहर की फिजा को खराब करने या माहौल को बिगाड़ने का प्रयास करता है तो उसकी सूचना कन्ट्रोल रूम एवं पुलिस प्रशासन को दें, सूचना देने वाले का नाम गोपनीय रखा जाएगा। हमारा देश विविधताओं से भरा देश है, इसकी स्वच्छ एवं साफ-सुथरी छवि को बरकरार रखने के साथ ही राष्ट्र के विकास में सहयोग करें। उन्होंने विश्वास दिलाया कि शान्ति समिति की बैठक में आईं हुयीं समस्याओं का सम्बन्धित अधिकारियों द्वारा समाधान कराया जाएगा। उन्होंने प्रबुद्धजनों से आग्रह किया कि जनमानस में युवाओं को यह संदेश दिया जाए यदि किसी प्रकार की अफवाहों या गलतफहमी के चलते उनके बच्चों का नाम थाने में आ जाता है तो उसका सम्पूर्ण भविष्य खराब हो सकता है, युवाओं को सही डायरेक्शन देना आप सभी का कर्तव्य ही नहीं जिम्मेदारी भी है। उन्होंने समिति के सदस्यों को आश्वस्त किया कि जनपद में कहीं भी पक्षपातपूर्ण कार्यवाही नहीं की जाएगी। अफवाहों एवं भ्रामक सूचनाओं पर ध्यान न दें और यदि सोशल मीडिया या अन्य किसी माध्यम से आप तक कोई खबर आती भी है तो उस समस्या के सदंर्भ में अपनी निकटतम पुलिस चौकी या थाने में अवगत करायें। ऐसी भ्रामक खबरों से उत्तेजित न होते हुए इनको आगे फारवर्ड न करें और इनकी पुष्टि जिला एवं पुलिस प्रशासन से करें।

इस दौरान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने ’’गीता पढ़िये या कुरान, तेरी-मेरी दोस्ती हर पुस्तक का ज्ञान’’ से अपनी बात की शुरूआत करते हुए कहा कि जनपदवासी यह भरोसा रखें, इधर-उधर के मामलों में अपने शहर का अमन-चैन खराब न करें। उन्होंने नसीहत भरे लहजे में कहा कि घर, मौहल्ले, परिवार की समस्याएं क्या कम हैं, जो सारे जहां की समस्याओं को ओढ़ने में लगे हैं। अपने परिवार एवं आस-पड़ोस की सुरक्षा व्यवस्था को दखें, कहीं-कहीं तो पड़ोसी को भगवान का रूप भी बताया गया है क्योंकि शासन-प्रशासन की मदद से पूर्व पड़ोसी ही आप तक पहुॅचता है। उन्होंने संभ्रात एवं प्रबुद्धजनों से अपील की कि धार्मिक आयोजनों के समय मौके पर उपस्थित रहकर युवाओं का सही मार्गदर्शन करें। जनपद में कोई नयी परम्परा नहीं डाली जाएगी, सभी धर्मांे एवं मजहबों के आयोजन पूर्ववत आयोजित कराए जाएंगे। आप सभी अलीगढ़ की शान हैं और हमें आशा है कि आप अलीगढ़ के सम्मान को कायम रखेंगे। पण्डित, मौलवी, पुजारियों पर आज भी जनता का विश्वास कायम है आप की बात कौन नहीं मानता। इस विश्वास को बनाये रखते हुए जनमानस को सही राह दिखाएं। युवा पीढ़ी के लिये उन्होंने कहा कि जिन चिरागों को हवाओं का खौफ नहीं, उन्हें तूफानों से हमीं को बचाना है। कभी कोई समस्या हो तो सीधे आकर मिलें, आपके लिये जिला एवं पुलिस प्रशासन के दरवाजे हर समय खुले हैं,

शहंशाबाद, पला कस्तली, नगौला, रामगढ़ पंजीपुर, बरेलवी मस्जिद, श्री पशुपतिनाथ मन्दिर, पहासू हाउस, अल-फिरदौस टीचर कॉलोनी, अफसरी मस्जिद, घासीराम मन्दिर चंदनियां, नूर मस्जिद,

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker