Uncategorized

लॉक डाउन के चलते ग्राम विकास परिषद की ओर से 50, असहाय परिवारों को राशन सामग्री उपलब्ध कराई

रमेश कुमार संवाददाता जिला सुपौल

(सुपौल): वैशविक महामारी कोरोना संकट से पूरा विश्व जंग लड़ रहा है. देश को कोरोनो संक्रमण से बचाने के लिए  चौथी बार लॉक डाउन किया गया है. सरकार की पहल पर देश के विभिन्न हिस्से में फंसे प्रवासी मजदूर को अपने-अपने इलाके में पहुंचा कर उन्हें कवारेंटीन सेंटर में रखा जा रहा है. वहीं इन मजदूर का रोजगार छीन चुका है. जिस कारण उनके परिवार वालों को विभिन्न प्रकार की समस्या से जूझना पड़ रहा है. कई दिहाड़ी मजदूर के समक्ष भोजन की भी समस्या हो गई है. हालांकि इन परिवार को सरकार की और से राशन मुहैया कराया जा रहा है. वावजूद इनलोगों की समस्या कम होती नहीं दिख रही है. तमाम समस्याओं के मद्देनजर ग्राम विकास परिषद ने प्रवासी मजदूर एवं उनके परिवार को मदद करने का बीड़ा उठाया है.
उपलब्ध कराया गया राशन
पिपरा प्रखंड के निर्मली पंचायत के वार्ड नंबर 01 स्थित प्राथमिक विद्यालय मुश्लिम टोला में आवासित 50 प्रवासी एवं उनके परिवार को ग्राम विकास परिषद की और से राशन उपलब्ध कराया गया. जिसमें आंटा, आलू, प्याज, सरसों तेल, चना, मसाला, दाल, नमक, सोयाबीन, मास्क, साबुन, सेनेटाइजर आदि शामिल था. मौके पर मौजूद परिषद की हेमलता पांडेय ने कहा कि
लॉक डाउन अवधि में प्रवासी, गरीब, मजदूर, दिव्यांग, विधवा एवं निसहाय लोगों के बीच राशन किट वितरण का कार्य जारी रहेगा. बताया कि ग्राम विकास परिषद अपने स्थापना काल से ही आपदा के घड़ी में मानव सेवा सहित रचनात्मक कार्यों को अंजाम दे रही है। जिस कारण इस वैश्विक संकट में संस्था जरूरतमंद के साथ खड़ी है. वितरण कार्य मे पंचायत के मुखिया कुंदन कुणाल, परिषद की वीणा भारती, स्नेहा कुमारी, ज्योति भारती आदि का सराहनीय योगदान रहा. वितरण कार्य मे सोशल डिस्टेंस का अक्षरशः पालन किया गया.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker