utter pradesh

विद्युत विभाग के लाइन मैन को बिजली चोरी के मामले उपभोक्ता से 50 हजार की रिश्वत लेना पड़ा भारी हुआ निलंबित

आकाश रॉय की रिपोर्ट

नोएडा यूपी में विद्युत विभाग के लाइनमैन को बिजली चैकिंग मे एक उपभोक्ता को चोरी करते पकड़ा है परन्तु पकड़े गए उपभोक्ता से पचास हजार की रिश्वत लेने का वीडियो वायरल होने पर,बुधवार को आरोपी लाइन मैन को निलंबित कर दिया गया है गुरुवार को जांच कमेटी का गठन किया जाएगा। इसके बाद आगे की कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।
मिली जानकारी के अनुसार
सेक्टर-66 के 33/11 केवी के उपकेंद्र पर आरोपी लाइनमैन मनीश कुमार यादव कार्यरत है। उसके क्षेत्र में गढ़ी चौखंडी समेत अन्य गांव हैं। आरोप है कि गढ़ी चौखंडी गांव में चेकिंग के मामले को रफा-दफा करने के नाम पर पचास हजार रुपये की रिश्वत मांगी गई है। इसके बाद लाइनमैन आरोपी के घर जाकर रिश्वत के रुपये लेता है। इसका बुधवार को वीडियो और ऑडियो वायरल हो गया। अभी तक की जांच में रिश्वत का मामला नवंबर 2020 का बताया जा रहा है,परंतु
बुधवार को वीडियो और ऑडियो वायरल होने के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया।
इसके बाद निगम अधिकरियों ने संज्ञान लेते हुए लाइनमैन को निलंबित कर दिया है अब गुरुवार को जांच कमेटी का गठन किया जाएगा, हालांकि गढ़ी गांव के रहने वाले उपभोक्ता ने अभी आरोपी लाइनमैन के खिलाफ लिखित शिकायत नहीं दी है।
लाइन मैन के कहे अनुसार अधिकारी भी शामिल है
लाइनमैन का ऑडियो वायरल हुआ है। इसमें पचास हजार रुपये रिश्वत की बातें कर रहा है, जिस पर उपभोक्ता कुछ कम पैसे देने की बातें कर रह है और निवेदन कर रहा है कि उनकी मामूरा गांव में दूध की डेयरी है। जैसे-तैसे गुजारा कर रहे हैं। फिर लाइनमैन कहता है कि इसमें से कुछ पैसे उच्चाधिकारियों के पास भी जाएगा। ऐसे में पचास हजार रुपये से कम में बात बनने की संभावना कम है। फिर फोन रखते समय कहता है कि अन्य साथियों से विचार करके बाद में बात करता हूं।

वीडियो वायरल होने के बाद मामले की जांच कराई गई। इसमें कुछ बिंदु सही पाए जाने के बाद लाइनमैन मनीष कुमार यादव को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है आज गुरुवार को जांच कमेटी का गठन किया जाएगा। इसके बाद आगे की कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी इधर उच्च अधिकारियो ने बताया है लाइन मैन की इस हरकत से सर शर्मसार हुआ है

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker